हरियाणा के सीएम मनोहर लाल ने कूड़ा उठाने वाली नामी कंपनी पर लगाया 25 लाख जुर्माना

गुरुग्राम : मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बृहस्पतिवार को शहर में सफाई व्यवस्था का औचक निरीक्षण किया। ओल्ड जेल चौक पर कूड़े के ढेर को देखकर मुख्यमंत्री ने सख्ती बरतते हुए कूड़ा उठाने वाली कंपनी इको ग्रीन पर 25 लाख रुपये जुर्माना लगाने के आदेश दिए। इतना ही नहीं कंपनी का नियमित रूप से सर्वे कर व्यवस्था सुधारने के लिए नगर निगम अधिकारियों को कहा है।

मुख्यमंत्री के आदेश के बाद प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड गुरुग्राम के क्षेत्रीय अधिकारी की ओर से इको ग्रीन कंपनी को 25 लाख रुपये जुर्माने का नोटिस भेजते हुए प्रदूषण फैलाने वाली गतिविधियों को बंद करने व कमियों को सात दिन में दूर करने के साथ ही ग्रेडेड रेस्पांस एक्शन प्लान (ग्रेप) के नियमों की पालना के आदेश दिए हैं। ग्रेप की अवहेलना करने पर जुर्माना लगाने की कार्रवाई की गई है।

पत्रकारों से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री ने मनोहर लाल ने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत भी सफाई व्यवस्था ठीक नहीं होने की भी कई शिकायतें मिल चुकी हैं। कंपनी को नियमित रूप से कूड़ा उठाना चाहिए, लेकिन निरीक्षण में भी पाया गया है कि सफाई व्यवस्था ठीक नहीं है। नगर निगम अधिकारियों को आदेश दिए गए हैं कि सभी जगहों से कूड़े का उठान हो ताकि शहर स्वच्छ रहे।

इको ग्रीन पर लग चुका है कई बार जुर्माना: इको ग्रीन ने शहर में 2017 में काम शुरू किया था। कंपनी के पास गुरुग्राम और फरीदाबाद शहर की जिम्मेदारी है, जहां पर सोलिड वेस्ट मैनेजमेंट किया जाना है। बंधवाड़ी में गुरुग्राम-फरीदाबाद के लिए नया सोलिड वेस्ट

मैनेजमेंट प्लांट लगाया जाना है, लेकिन निर्माण कार्य फिलहाल शुरू नहीं हो सका है। लगभग ढाई साल में कंपनी की कार्यप्रणाली सुधरने की बजाय  बिगड़ती जा रही है।

ऐसे में नगर निगम की ओर से कई बार इको ग्रीन पर जुर्माना लगाने की कार्रवाई की जा चुकी है। लेकिन कंपनी का रवैया ठीक नहीं है। शहर में 35 वार्ड हैं लेकिन सभी घरों से डोर टू डोर कचरा  कलेक्शन नहीं हो रहा है। अभी भी 30 फीसद से ज्यादा घरों से नियमित रूप से कूड़ा नहीं उठ रहा है।

डंपिंग प्वाइंट से रोजाना नहीं उठ रहा कूड़ा: शहर में कूड़े के डंपिंग प्वाइंट बने हुए हैं। पिछले छह माह से सभी  प्वाइंट से कूड़ा नहीं उठने के कारण लोग परेशान हैं। गंदगी और दुर्गंध के कारण रिहायशी इलाकों में समस्या बढ़ गई है। नगर निगम में घरों और डंपिंग प्वाइंट से कूड़ा नहीं उठाने की शिकायतें पहुंच रही हैं।

डंपिंग सेंटर का मुआयना करने के बाद सीएम ने अंत्योदय सरल केंद्र का औचक निरीक्षण किया और अधिकारियों से कामकाज के बारे में जानकारी ली। इस मौके पर “आपकी बेटी-हमारी बेटी” योजना के तहत एक महिला एवं उनकी नन्ही गुड़िया का पंजीकरण भी किया गया।

WHAT DO YOU THINK?

Please enter your comment!
Please enter your name here